भारत के बंदरगाह (Port of India)

दूसरे देशों के साथ व्यापार हेतु प्राकृतिक बंदरगाहों के साथ-साथ कुछ कृत्रिम भारत के बंदरगाह (Port of India) भी निर्मित किए गए हैं। विदेशी व्यापार जल मार्ग के साथ ही  वायु मार्ग एवं स्थल मार के द्वारा भी किया जाता है। जलमार्ग के द्वारा व्यापार हवाई मार्ग की अपेक्षा बहुत ही सस्ता पड़ता है तथा सभी देशों के साथ स्थल मार्ग से व्यापार स्थलीय सीमा के अभाव में संभव नहीं है।

Table of Contents

भारत के बंदरगाह

वर्तमान समय में भारत में 13 बड़े और 200 छोटे बंदरगाह हैं। बड़े बंदरगाह पर केंद्र सरकार का और छोटे बंदरगाह पर संबंधित राज्य की सरकार का नियंत्रण है। भारत के प्रमुख केंद्र सरकार के नियंत्रण वाले कुल 13 बंदरगाहों में से 10 बंदरगाह प्राकृतिक हैं तथा अन्य 3 बंदरगाह कृत्रिम हैं।

बंदरगाह किसे कहते हैं?

समुद्र या महासागर के किनारे जलयानों /जहाजों के ठहरने के स्थान को बंदरगाह (Port, Harbour) कहते है।

भारत के प्रमुख बंदरगाह (Major Port of India)

1. मुंबई बंदरगाह

देश की आर्थिक राजधानी मुंबई में स्थित यह भारत का एक प्राकृतिक बंदरगाह है। भारत का यह सबसे बड़ा बंदरगाह है। अन्य बंदरगाहों की तुलना में यह अधिक फैला हुआ है। देश का सर्वाधिक व्यापार (आयात-निर्यात) इसी बंदरगाह के द्वारा होता है। भारत का अनुमान 20% व्यापार यहां से होता है। भारत का सबसे बड़ा शिपयार्ड मझगांव डॉक इसी के पास स्थित है।

  • संबंधित राज्य – महाराष्ट्र
  • बंदरगाह की प्रकृति – प्राकृतिक
  • भारत का तट – पश्चिमी तट / पश्चिमी घाट
  • संबंधित समुद्र – अरब सागर

2. न्हावाशेवा बंदरगाह

मुंबई बंदरगाह पर व्यापार के दबाव को कम करने के लिए इस बंदरगाह का निर्माण किया गया है। मुंबई बंदरगाह के पास स्थित यह भारत का अतिआधुनिक एवं संपूर्ण सुविधा युक्त बंदरगाह है। इसे जवाहरलाल नेहरू बंदरगाह {Jawaharlal Nehru Port (JNPT)} के नाम से भी जाना जाता है। JNPT भारत का सबसे बड़ा कृत्रिम बंदरगाह है। यह भारत का सबसे बड़ा कंटेनर बंदरगाह है।

  • संबंधित राज्य – महाराष्ट्र
  • बंदरगाह की प्रकृति – कृत्रिम
  • भारत का तट – पश्चिमी तट / पश्चिमी घाट
  • संबंधित समुद्र – अरब सागर
  • अन्य नाम – जवाहरलाल नेहरू बंदरगाह (Jawaharlal Nehru Port)

3. कांडला बंदरगाह

कच्छ की खाड़ी (गुजरात) में स्थित यह भारत का एक ज्वारीय बंदरगाह है। देश की राजधानी नई दिल्ली के सबसे निकट स्थित होने के कारण सामाजिक दृष्टि से यह भारत का महत्वपूर्ण बंदरगाह है। कांडला पोर्ट के द्वारा गुजरात, राजस्थान, पंजाब, हरियाणा एवं दिल्ली राज्यों से खनिज तेल, रसायन, सीमेंट, सूती वस्त्र आदि का व्यापार होता है। भारत के केंद्रीय मंत्रिमंडल के द्वारा कांडला बंदरगाह का नाम बदलकर अब दीनदयाल बंदरगाह कर दिया गया है।

  • संबंधित राज्य – गुजरात
  • बंदरगाह की प्रकृति – प्राकृतिक
  • भारत का तट – पश्चिमी तट / पश्चिमी घाट
  • संबंधित समुद्र – अरब सागर
  • नया नाम – दीनदयाल बंदरगाह

4. मुर्मुगाओ बंदरगाह

यह भारत के गोवा राज्य में जुआरी नदी के तट पर स्थित है। यहां से प्रचुर मात्रा में लोह अयस्क ईरान को निर्यात किया जाता है।

  • संबंधित राज्य – गोवा
  • बंदरगाह की प्रकृति – प्राकृतिक
  • भारत का तट – पश्चिमी तट / पश्चिमी घाट
  • संबंधित समुद्र – अरब सागर

5. न्यू मंगलौर बंदरगाह

यह भारत के कर्नाटक राज्य में स्थित है। कर्नाटक के कुदरेमुख से निकलने वाला लोह अयस्क इसी पोर्ट के द्वारा अरब देशों को निर्यात किया जाता है।

  • संबंधित राज्य – कर्नाटक
  • बंदरगाह की प्रकृति – प्राकृतिक
  • भारत का तट – पश्चिमी तट / पश्चिमी घाट
  • संबंधित समुद्र – अरब सागर



6. कोचीन बंदरगाह

केरल राज्य में स्थित यह भारत का एक प्राकृतिक बंदरगाह है। इस पोर्ट के द्वारा चाय कॉफी एवं मसालों का निर्यात किया जाता है। भारत के पश्चिमी तट अर्थात अरब सागर में स्थित बंदरगाहों में इसे सर्वश्रेष्ठ बंदरगाह का दर्जा दिया गया है।

  • संबंधित राज्य – केरल
  • बंदरगाह की प्रकृति – प्राकृतिक
  • भारत का तट – पश्चिमी तट / पश्चिमी घाट
  • संबंधित समुद्र – अरब सागर

7. तूतीकोरिन बंदरगाह

तमिलनाडु में मन्नार की खाड़ी में स्थित यह भारत का एक छिछला बंदरगाह है। यहां पर समुद्र तट के कम गैरा होने के कारण बड़े जलयानों को तूतीकोरिन के मुख्य तथ्य कुछ किलोमीटर है पहले ही एंकरेज कर दिया जाता है तथा इनसे सामग्री का आदान-प्रदान छोटे जहाजों से किया जाता है। तूतीकोरिन तट के आसपास मत्स्य पालन अधिक होने के कारण इसको मत्स्य पत्तन भी कहा जाता है।

  • संबंधित राज्य – तमिलनाडु
  • बंदरगाह की प्रकृति – प्राकृतिक
  • भारत का तट – पूर्वी तट / पूर्वी घाट
  • संबंधित समुद्र – बंगाल की खाड़ी

8. चेन्नई बंदरगाह

महानगर चेन्नई में स्थित यह भारत का सबसे प्राचीन कृत्रिम बंदरगाह है। यह भारत का दूसरा सर्वाधिक यातायात घनत्व वाला बंदरगाह है।

  • संबंधित राज्य – तमिलनाडु
  • बंदरगाह की प्रकृति – कृत्रिम
  • भारत का तट – पूर्वी तट / पूर्वी घाट
  • संबंधित समुद्र – बंगाल की खाड़ी

9. एन्नोर बंदरगाह

चेन्नई बंदरगाह पर जहाजों के आवागमन को कम करने के लिए  एन्नोर बंदरगाह का निर्माण किया गया, इसलिए इसको चेन्नई बंदरगाह का सहायक बंदरगाह भी कहते है। यह भारत का प्रथम आधुनिक, कंप्यूटराइज्ड एवं निगमित बंदरगाह है।

  • संबंधित राज्य – तमिलनाडु
  • बंदरगाह की प्रकृति – कृत्रिम
  • भारत का तट – पूर्वी तट / पूर्वी घाट
  • संबंधित समुद्र – बंगाल की खाड़ी

10. विशाखापट्टनम बंदरगाह

आंध्र प्रदेश राज्य में स्थित भारत का सबसे गहरा बंदरगाह है। यह तेज समुद्री हवाओं से सुरक्षित रहता है क्योंकि यह ‘डॉल्फिन नोज’ पहाड़ी से घिरा हुआ है। विशाखापट्टनम बंदरगाह से कोयले का व्यापार बहुतायत में किया जाता है।

  • संबंधित राज्य – तमिलनाडु
  • बंदरगाह की प्रकृति – प्राकृतिक
  • भारत का तट – पूर्वी तट / पूर्वी घाट
  • संबंधित समुद्र – बंगाल की खाड़ी

11. पारादीप बंदरगाह

यह भारत के उड़ीसा राज्य में स्थित है। झारखंड एवं उड़ीसा राज्य में स्थित लोहे की खानों से निकाला हुआ कच्चा लोहा इसी पोर्ट के द्वारा जापान को निर्यात किया जाता है।

  • संबंधित राज्य – उड़ीसा
  • बंदरगाह की प्रकृति – प्राकृतिक
  • भारत का तट – पूर्वी तट / पूर्वी घाट
  • संबंधित समुद्र – बंगाल की खाड़ी

12. कोलकाता बंदरगाह

पश्चिम बंगाल में हुगली नदी पर स्थित यह भारत का सबसे बड़ा नदी बंदरगाह है। भारत का यह पूर्वी तट अर्थात बंगाल की खाड़ी में स्थित सबसे बड़ा बंदरगाह है। यह एक प्राकृतिक बंदरगाह है। इसका सहायक बंदरगाह है हल्दिया है जोकि बंगाल की खाड़ी में समुद्र तट पर स्थित है। कोलकाता बंदरगाह के प्रमुख पोताक्षय डायमंड और खिदिरपुर हैं।

  • संबंधित राज्य – कोलकाता
  • बंदरगाह की प्रकृति – प्राकृतिक
  • भारत का तट – पूर्वी तट / पूर्वी घाट
  • संबंधित समुद्र – बंगाल की खाड़ी / हुगली नदी

13. पोर्ट ब्लेयर बंदरगाह

यह भारत के केंद्र शासित प्रदेश अंडमान-निकोबार की राजधानी पोर्ट ब्लेयर के पास स्थित है। केंद्र सरकार के द्वारा 2010 में इसे 13वें बंदरगाह का दर्जा प्रदान किया गया।

  • संबंधित राज्य – अंडमान-निकोबार द्वीप समूह
  • बंदरगाह की प्रकृति – प्राकृतिक
  • भारत का तट – पूर्वी तट / पूर्वी घाट
  • संबंधित समुद्र – बंगाल की खाड़ी



भारत के बंदरगाह की राज्यवार सूची

भारत के तटीय राज्य

पोर्ट या बंदरगाह 

गुजरात राज्य में स्थित बंदरगाह (Port)

कांडला, ओखा, वेदी, वेरावल, सिक्का, पोरबंदर, द्वारका, भावनगर एवं माण्वी

महाराष्ट्र में स्थित बंदरगाह (Port)

मुम्बई, न्हावाशेवा (JNPT), रत्नागिरी

कर्नाटक में स्थित बंदरगाह (Port)

कारवार

केरल में स्थित बंदरगाह (Port)

कोचीन, कन्नूर, कालीकट, कासरगौड़, कोझीकोड़े, किलोन, अलप्पी, मनक्कड़म, कोट्टायम, कायमकुलम

तमिलनाडु में स्थित बंदरगाह (Port)

चेन्नई, एन्नोर, तूतीकोरिन, तोंडी, नागपट्टनम, कराइकल

आंध्र प्रदेश में स्थित बंदरगाह (Port)

विशाखापट्टनम, मछलीपट्टनम

उड़ीसा राज्य में स्थित बंदरगाह (Port)

पारादीप, गोपालपुर

पश्चिम बंगाल में स्थित बंदरगाह (Port)

कोलकाता, हल्दिया

अंडमान-निकोबार में स्थित बंदरगाह (Port)

पोर्ट ब्लेयर, डिगलीपुर

लक्षद्वीप में स्थित बंदरगाह (Port)

मिनीकॉय

भारत के प्रसिद्ध बंदरगाह

पश्चिमी तट पर स्थित भारत के बंदरगाह

(1) मुम्बई (2) न्हावाशेवा (जवाहरलाल नेहरू)
(3) कांडला (दीनदयाल) (4) मुर्मुगाओ (गोवा)
(5) न्यू मंगलौर (6) कोचीन
भारत के बंदरगाह की एक झलक
भारत के बंदरगाह की एक झलक

पूर्वी तट पर स्थित भारत के बंदरगाह

(1) तूतीकोरिन (2) चेन्नई
(3) एन्नोर (4) विशाखापट्टनम
(5) पारादीप (6) कोलकाता (हल्दिया)

भारत के प्राकृतिक बंदरगाह

मुम्बई कांडला (दीनदयाल) मुर्मुगाओ (गोवा)
न्यू मंगलौर कोचीन तूतीकोरिन
विशाखापट्टनम पारादीप कोलकाता
पोर्ट ब्लेयर
भारत के प्रमुख बंदरगाह
भारत के प्रमुख बंदरगाह

PDF डाउनलोड करे – भारत के बंदरगाह

भारत के कृत्रिम बंदरगाह

न्हावाशेवा (जवाहरलाल नेहरू)

चेन्नई

एन्नोर

 

Scroll to Top