राजस्थान के प्रमुख दुर्ग और किले

राजस्थान के प्रमुख दुर्ग 

राजस्थान दुर्गों के प्रकार

मुख्य रूप से दुर्ग छः प्रकार के होते है-

1. गिरि दुर्ग

  • किसी ऊंचे पर्वत पर स्थित दुर्ग गिरि दुर्ग कहलाते हैं।
  • राजस्थान में चित्तौड़गढ़, कुम्भलगढ़, मेहरानगढ़, अचलगढ़, तारागढ़, आमेर, नाहरगढ़, सुवर्णगिरि (जालौर), सिवाना दुर्ग, तारागढ़ (बूँदी), जयगढ़, बाला किला आदि गिरि दुर्ग हैं।
  • राजस्थान के छः गिरि दुर्ग विश्व धरोहर सूची में शामिल हैं-

(1) आमेर दुर्ग – जयपुर

(2) गागरोन दुर्ग – झालावाड़

(3) कुम्भलगढ़ दुर्ग – राजसमंद

(4) सोनार का किला – जैसलमेर

(5) रणथंभौर दुर्ग – सवाई माधोपुर

(6) चित्तौड़गढ़ दुर्ग – चित्तौड़गढ़

2. जल दुर्ग

  • नदी, नाला या झील से घिरा हुआ दुर्ग जल दुर्ग कहलाता है।
  • राजस्थान में गागरोन दुर्ग, शेरगढ़ दुर्ग (बारां), भैंसरोड़गढ़ दुर्ग, शेरगढ़ दुर्ग (धौलपुर) आदि जल दुर्ग हैं।

3. धान्वन दुर्ग

  • ऊबड़-खाबड़ मरुस्थल से घिरा हुआ दुर्ग धान्वन दुर्ग कहलाता है।
  • राजस्थान में सोनरगढ़, भटनेर, जूनागढ़, नागौर दुर्ग तथा चुरू का किला धान्वन दुर्ग हैं।

4. स्थल दुर्ग

  • समतल भूमि पर पत्थरों व ईंटों से बने हुए दुर्ग स्थल दुर्ग कहलाते हैं।
  • राजस्थान में चौमुँहागढ़ (चौमूं), माधोराजपुरा का किला तथा मैगजीन दुर्ग (अजमेर) आदि स्थल दुर्ग हैं।

5. पारिध दुर्ग

  • जिस दुर्ग के चारों तरफ पानी से भरी हुई गहरी खाई होती है, पारिध दुर्ग कहलाता है।
  • राजस्थान में लोहागढ़ (भरतपुर) इस श्रेणी का दुर्ग है।

6. वन दुर्ग

  • चारों तरफ से वनों से घिरा हुआ दुर्ग वन दुर्ग होता है।
  • राजस्थान में रणथंभौर दुर्ग, तिमनगढ़ दुर्ग और बयाना का दुर्ग इस श्रेणी में शामिल हैं।

राजस्थान के प्रमुख दुर्ग और किले

(i) चित्तौड़गढ़ का किला

  • चित्तौड़गढ़ दुर्ग को चित्रकूट पहाड़ी पर सातवीं शताब्दी में चित्रांगद मौर्य ने बनवाया था।
  • इस किले को पूर्ण रूप से महाराणा कुंभा ने करवाया था। यह लगभग 28 वर्ग किमी. में फैला हुआ है।
  • चित्तौड़गढ़ के दुर्ग को “राजस्थान के दुर्गों का सिरमोर” भी कहा जाता है।
  • चित्तौड़ गढ़ किले को राजस्थान का गौरव भी कहा जाता है।
  • चित्तौड़ के दुर्ग के बारे में एक कहावत है- “गढ़ तो गढ़ चित्तौड़गढ़, बाकी सब गढ़ैया।”
  • चित्तौड़गढ़ दुर्ग में तीन साके हुए, जो निम्न प्रकार हैं-
    • (1) रावल रत्नसिंह – 1303 ई.
    • (2) महाराणा विक्रमादित्य – 1534 ई.
    • (3) महाराणा उदयसिंह – 1567 ई.
  • अलाउद्दीन खिलजी ने 1303 ई. में रावल रत्नसिंह को हराकर इस दुर्ग का नाम ‘खिरज़्ाबाद’ रखा था।

(ii) कुम्भलगढ़ दुर्ग

  • यह किला राजसमंद जिले में ‘जरगा पहाड़ियों पर स्थित है।
  • राजस्थान में यह सर्वाधिक सुरक्षित दुर्ग है।

राजस्थान के प्रमुख दुर्ग से संबंधित प्रश्नोत्तरी 

  1. महाराणा प्रताप ने किस किले से मेवाड़ का शासन प्रारंभ किया था-

(1)    कुंभलगढ़ का किला

(2)    चित्तौड़ का किला ♠

(3)    रणथंभौर का किला

(4)    सोजत का किला

  1. चित्तौड़गढ़ दुर्ग है-

(1)    धान्वन दुर्ग

(2)    जल दुर्ग

(3)    पारिख दुर्ग

(4)    गिरि दुर्ग ♠

  1. चित्तौड़गढ़ दुर्ग किन नदियों के संगम स्थल के समीप अरावली पर्वतमाला के 1850 फीट ऊंचे पर्वत शिखर (मेसा पठार) पर बना हुआ है-

(1)    गंभीरी और बेड़च ♠

(2)    माही और गंभीरी

(3)    चम्बल और कोठारी

(4)    बेड़च और माही

  1. राजस्थान का कौनसा दुर्ग ‘दुर्गाधिराज’ कहलाता है-

(1)    मेहरानगढ़ दुर्ग

(2)    आमेर दुर्ग

(3)    रणथंभौर दुर्ग

(4)    चित्तौड़ दुर्ग ♠

  1. चित्तौड़गढ़ दुर्ग के विस्तार और परिवर्द्धन का श्रेय किसे है-

(1)    महाराणा सांगा

(2)    महाराणा कुंभा ♠

(3)    महाराणा प्रताप

(4)    महाराणा उदयसिंह

  1. निम्न में से किस दुर्ग को राजस्थान का सबसे बड़ा लिविंग फोर्ट कहा जाता है-

(1)    मेहरानगढ़ दुर्ग

(2)    आमेर दुर्ग

(3)    रणथंभौर दुर्ग

(4)    चित्तौड़गढ़ दुर्ग ♠

  1. गोरा-बादल महल और नवलक्खा बुर्ज कहा स्थित है-

(1)    मेहरानगढ़ दुर्ग

(2)    जालौर दुर्ग

(3)    रणथंभौर दुर्ग

(4)    चित्तौड़ दुर्ग ♠

  1. लघु दुर्ग नवलक्खा बुर्ज का निर्माण किसने करवाया था-

(1)     बनवीर ♠

(2)    महाराणा उदयसिंह

(3)    महाराणा कुंभा

(4)    रावत बाघसिंह

  1. वीरवर राठौर कल्ला, ठाकुर जयमल, वीर रावत पत्ता और बाघसिंह की छतरियाँ किस दुर्ग में बनी हुई है-

(1)    मेहरानगढ़ दुर्ग

       (2)    जालौर दुर्ग

(3)    रणथंभौर दुर्ग

(4)    चित्तौड़ दुर्ग ♠

  1. दिल्ली सुल्तान अलाऊद्धीन खिलजी द्वारा 1303 ई. में जीत के बाद ‘खिरजाबाद’ नाम किस दुर्ग का रखा गया-

(1)    मेहरानगढ़ दुर्ग

(2)    जालौर दुर्ग

(3)    रणथंभौर दुर्ग

(4)    चित्तौड़ दुर्ग ♠

राजस्थान के प्रमुख दुर्ग और किले प्रश्नोत्तरी 

  1. चित्तौड़गढ़ में स्थित विजय स्तम्भ का निर्माण किसने करवाया था-

(1)    महाराणा कुंभा ♠

(2)    महाराणा उदयसिंह

(3)    महाराणा सांगा

(4)    महाराणा प्रताप

  1. चित्तौड़गढ़ दुर्ग में स्थित जैन कीर्ति स्तम्भ में उत्कीर्ण अभिलेखों का स्थापनाकर्ता कौन था-

(1)    देवा

(2)    मंडन

(3)    जीजा ♠

(4)    गुनभद्र

  1. अलाऊद्धीन खिलजी ने निम्न में से किस दुर्ग पर आक्रमण नहीं किया था-

(1)    चित्तौड़गढ़ दुर्ग

(2)    रणथंभौर दुर्ग

(3)    कुंभलगढ़ दुर्ग ♠

(4)    जालौर दुर्ग

  1. ‘पौराणिक हिन्दू मूर्तिकला का अनुपम खजाना’ अथवा ‘भारतीय मूर्तिकला का विश्वकोश’ किसे कहा जाता है-

(1)    बादल महल

(2)    विजय स्तम्भ ♠

(3)    मोती महल

(4)    मेहरानगढ़ संग्रहालय

  1. राजस्थान का कौनसा दुर्ग ‘चित्रकूट’ के नाम से जाना जाता है-

(1)    गागरोन दुर्ग

(2)    अचलगढ़ दुर्ग

(3)    चित्तौड़गढ़ दुर्ग ♠

(4)    मेहरानगढ़ दुर्ग

  1. सिंहलद्वीप के राजा गंधर्वसेन की पुत्री रानी पद्मिनी ने चित्तौड़गढ़ दुर्ग में कब जौहर किया था-

(1)    1302 ई.

(2)    1303 ई. ♠

(3)    1307 ई.

(4)    1311 ई.

  1. विजय स्तम्भ को ‘रोम के टार्जन’ की संज्ञा किसने डी थी-

(1)    अबुल फजल

(2)    कर्नल जेम्स टॉड ♠

(3)    अकबर

(4)    वीर नारायण पँवार

  1. चित्तौड़गढ़ किले की स्थापना किस शताब्दी में हुई थी-

(1)    सातवी ♠

(2)    आठवी

(3)    ग्यारहवीं

(4)    पंद्रहवीं

Scroll to Top