भारत में सिंचाई के प्रमुख साधन

भारत में सिंचाई के प्रमुख साधन कुएं, नलकूप, नहर तथा तालाब है। कुएं एवं नलकूप के द्वारा सबसे ज्यादा सिंचाई की जाती है, जोकि देश के कुल सिंचित क्षेत्र का 56% है।

भारत में सिंचाई

  • खेती में कृत्रिम साधनों से पानी देने को सिंचाई कहते हैं। भारत में इसकी आवश्यकता इसलिए अधिक है क्योंकि भारत एक कृषि प्रधान देश है और यहाँ वर्षा की मात्रा एवं समय दोनों ही अनिश्चित हैं।
  • प्रथम पंचवर्षीय योजना से पूर्व, 1951 तक, देश में 226 लाख हेक्टेयर भूमि पर सिंचाई की व्यवस्था की जा चुकी थी, जिसमें 97 लाख हेक्टेयर भूमि की सिंचाई बड़ी जल-विद्युत योजनाओं द्वारा और 129 लाख हेक्टेयर भूमि की सिंचाई लघु जल-विद्युत योजनाओं द्वारा की जाती थी।
  • सन् 2006-2007 के अन्त तक यह बढ़ कर 1027.7 लाख हेक्टेयर हो गयी। सन् 2021 तक सिंचित भूमि 1082.1 लाख हेक्टेयर बना देने का लक्ष्य है, जिसके लिए अनेकों बड़े, मध्यम तथा लघु योजनाओं के निर्माण किये जा रहे हैं।

सिंचाई के प्रमुख साधन

  • कुएं एवं नलकूप सिंचाई के प्रमुख साधन है।
  • दूसरे स्थान पर नहरों द्वारा सिंचाई होती है।
  • तालाबों द्वारा सिंचाई सर्वाधिक प्रायद्वीपीय भारत में होती है।

1. कुएं एवं नलकूप द्वारा सिंचाई

  • भारत में सिंचित क्षेत्र के लगभग 56 प्रतिशत भाग में कुओं और नलकूपों द्वारा सिंचाई होती है।
  • उत्तर प्रदेश, पंजाब, तमिलनाडु, महाराष्ट्र, गोवा, बिहार और झारखण्ड में कुएं एवं नलकूप प्रमुख साधन है।
  • हरियाणा, महाराष्ट्र, बिहार, राजस्थान तथा गुजरात में भी इन साधनों का प्रयोग होता है।
    भारत में सिंचाई के प्रमुख साधन
    फव्वारों से सिंचाई – भारत में सिंचाई

2. तालाबों द्वारा सिंचाई

  • मध्य और दक्षिण भारत में जहाँ प्रायः कुएँ खोदना या नहरें निकालना बहुत कठिन है, वहाँ तालाबों द्वारा सिंचाई की जाती है।
  • तालाबों से सिंचाई
    तालाबों से सिंचाई – भारत में सिंचाई

    कुल सिंचित भाग का लगभग 6 प्रतिशत भाग तालाबों के पानी द्वारा सिंचित है।

  • आंध्र प्रदेश और तमिलनाडु प्रमुख सिंचित राज्य हैं।
  • कर्नाटक, पश्चिम बंगाल तथा उत्तर प्रदेश में भी तालाबों द्वारा सिंचाई की जाती है।

3. नहरों द्वारा सिंचाई

  • नहरों द्वारा सिंचाई अधिक सस्ती और आसान है।
  • उत्तरी और मध्य भारत में नहरों द्वारा सिंचाई होती है।
  • हमारे देश में कुल सिंचित क्षेत्र का लगभग 31 प्रतिशत से अधिक भाग नहरों द्वारा ही सिंचित है।
    नहरों से सिंचाई
    नहरों से सिंचाई – भारत में सिंचाई
  • नहरों द्वारा सिंचाई के सिंचित क्षेत्र उत्तरी भारत के मैदानी भाग-उत्तर प्रदेश, तथा पंजाब, जम्मू और कश्मीर, असम, त्रिपुरा, हरियाणा, ओडिशा, कर्नाटक, प. बंगाल, तेलंगाना, आंध्र प्रदेश तथा दक्षिण की नदियों के डेल्टा प्रदेश है।

Scroll to Top