चट्टानों के प्रकार और उदाहरण

चट्टान अथवा शैल

शैल अथवा चट्टान खनिजों का समूह होती हैं। निर्माण के आधार पर शैलों को मुख्यतः तीन भागों में बाँटा गया है- आग्नेय, अवसादी और कायान्तरित या रूपांतरित

1. आग्नेय चट्टान

  • आग्नेय शैलों का निर्माण ज्वालामुखी से निकलने वाले लावा के जमने से हुआ है।
  • इनका निर्माण सबसे पहले हुआ इसलिए इन चट्टानों को प्राथमिक मूलभूत शैले भी कहते है।
  • ये कठोर होती है तथा इनमें अवसाद नहीं पाया जाता है।
  • अवसाद के नहीं पाये जाने के कारण इनमें जीवाश्म, खनिज तेल तथा गैस के भण्डार नहीं पाये जाते है।

आग्नेय शैलों के उदाहरण

ग्रेनाइट (धरातल के अंदर), बेसाल्ट (धरातल के ऊपर), ग्रेबो, डायोराइट और पेग्मेटाइड आदि।

2. अवसादी चट्टान

  • इनका निर्माण आग्नेय शैलों के अपरदन अत्यधिक ताप, दाब तथा रासायनिक क्रियाओं के फलस्वरूप समुद्र के पेंदे में अवसाद के जमने से होता है।
  • पृथ्वी के धरातल का 75% भाग इनके द्वारा ढका हुआ है।
  • भूपटल के निर्माण में इन शैलों का योगदान 95% है।
  • अवसादी शैलों की सरंचना परतों मे होने के कारण इनको परतदार शैल भी कहा जाता है।
  • इन शैलों में अवसाद होता है तथा ये मुलायम भी होती है।
  • अवसाद होने के कारण खनिज तेल, प्राकृतिक गैस तथा जीवाश्म इन्ही प्रकार की शैलों में बहुतायत से पाया जाता है।

अवसादी शैल के उदाहरण

चुना पत्थर, बलुआ पत्थर, कोयला, जिप्सम, चोक, सेंधा नमक और लॉयस का मैदान आदि।

3. कायान्तरित या रूपान्तरित चट्टान

  • आग्नेय और अवसादी शैलों के अत्यधिक ताप, दाब और रासायनिक क्रियाओं के फलस्वरूप बदलने या रूपांतरण से इस प्रकार की शैलों का निर्माण होता है।
  • कायान्तरित शैल कठोर होती है।
  • अवसाद के नहीं होने के कारण इनमें जीवाश्म, खनिज तेल और गैस के भण्डार नहीं मिलते है।

कायान्तरित या रूपान्तरित शैलों के उदाहरण

आग्नेय शैल  कायान्तरित या रूपान्तरित शैल 
ग्रेनाइट नीस
बेसाल्ट सिस्ट
गब्रो सपेनटाइन

 

आग्नेय शैल  कायान्तरित या रूपान्तरित शैल 
चुना पत्थर संगमरमर
बलुआ पत्थर क्वार्ट्ज
कोयला ग्रेफ़ाइट और हीरा (आगे रूपांतरित)

चट्टान - प्रकार और उदाहरण

भारत के द्वीप समूह
भारत के द्वीप समूह
Scroll to Top